Join Our WhatsApp Group!

Benefit Of Pan Aadhaar Linking – पैन आधार लिंक करने के फायदे

Sharing Is Caring:
5/5 - (5 votes)
WhatsApp Channel पर जुड़े Join Now
Telegram Channel पर जुड़े Join Now
Instagram Join Now

 

PAN- Aadhaar Linking: आधार से पैन को लिंक करने के ये फायदे क्या जानते हैं आप? बड़े काम भी हो जाते हैं आसान

नमस्कार दोस्तों जैसा कि हम सभी जानते हैं भारत सरकार ने पैन कार्ड और आधार कार्ड को लिंक करने की प्रक्रिया 31 मार्च तक रखी है अगर आप 31 मार्च तक अपना पैन कार्ड और आधार कार्ड लिंक नहीं करवाते हैं तो आपका जो पैन कार्ड होगा उसकी काफी सारी जो उपयोगिता थी वह खत्म कर दी जाएगी तो आज के आर्टिकल में हम देखने वाले हैं कि पैन कार्ड और आधार कार्ड को लिंक कराने के हमें क्या-क्या फायदे देखने को मिलेंगे चलिए इस आर्टिकल कौन शुरू करते हैं और आपको एक-एक करके उन सभी मिलने वाले फायदे के बारे में बताते हैं |

PAN- Aadhaar Linking: पैन कार्ड को आधार से लिंक करने की आखिरी तारीख 31 मार्च है. ऐसे में इसके फायदे के बारे में जान लेना चाहिए.

PAN- Aadhaar Linking Benefits: अगर आप आधार और पैन को 31 मार्च से पहले ही लिंक कर लेते हैं तो कई फायदों का लाभ आप उठा सकते हैं. वहीं अगर आप पैन को आधार से लिंक करने में असफल रहते हैं तो आपका पैन कार्ड निष्क्रिय तो होगा ही साथ ही कई लाभ से वंचित भी रह जाएंगे.

सरकार ने आधार और पैन कार्ड को लिंक करने की आखिरी तारीख 31 मार्च 2023 तय की है. इसके बाद आधार कार्ड और पैन कार्ड को लिंक नहीं किया जा सकता है. अभी पैन कार्ड को ​आधार कार्ड से लिंक कराने के लिए 1000 रुपये का चार्ज देना होगा.

पैन को आधार से लिंक करने के फायदे

पैन को आधार से लिंक करने की बात आती है तो इसके कई फायदे हैं, क्योंकि ये दोनों आपके बैंक खाते खोलने के लिए केवाईसी के लिए महत्वपूर्ण हैं. ये इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए काम आता है. आइए जानते हैं इसके तहत क्या क्या फायदें मिलते हैं.

ये लाभ नहीं जानते होंगे आप? 

  • आधार कार्ड सभी ट्रांजैक्शन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज है. आधार और पैन को जोड़ने से आयकर विभाग को सभी ट्रांजैक्शन का ऑडिट ट्रेल मिलता है.
  • जब तक आपका आधार-पैन लिंक नहीं हो जाता, तब तक आईटीआर फाइलिंग की अनुमति नहीं दी जाएगी.
  • लिंक होने के बाद आईटीआर फाइल करना आसान हो जाएगा, क्योंकि रसीद जमा करने या ई-सिग्नेचर की जरूरत खत्म हो जाएगी.
  • आधार कार्ड के इस्तेमाल से अन्य दस्तावेजों की जरूरत काफी हद तक कम हो गई है
  • आधार कार्ड पहचान प्रमाण और पता प्रमाण के उद्देश्य से भी काम करता है.
  • लिंकिंग के बाद ट्रांजैक्शन को ट्रैक किया जा सकता है.
  • आधार-पैन लिंकिंग से फ्रॉड की समस्या दूर होगी और टैक्स चोरी पर लगाम लगेगी.
WhatsApp Channel पर जुड़े Join Now
Telegram Channel पर जुड़े Join Now
Instagram Join Now

Leave a Comment

error: Content is protected !!